किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ और वाक्य में प्रयोग

किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ: दोस्तों आज हम बात करने वाले है, एक ऐसे मुहावरे के बारे में जो आज कल बहुत ही ज्यादा Trend में है, किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ के बारे में आपको हम जानकारी देने वाले है। आपने बहुत बार अपने घर के सदस्य या किसी रिश्तेदार, या अपने किसी FRIEND के मुँह से किताबी कीड़ा होना जरूर सुना होगा।

किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ
किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ

ज्यादातर हम जब भी किसी Topic पर अपना ज्ञान सामने वाले को देने की कोशिश करते है, तो ऐसी स्थिति में कोई न कोई व्यक्ति तो हमें यह बोलता है, की तुम तो किताबी कीड़े हो, अब ऐसे स्थिति में हम सामने वाले व्यक्ति को क्या कहना चाहिए। इसके बारे में हमने आज के इस ब्लॉग किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ में बताया हुआ है।

किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ किताबी कीड़ा होना, सबसे पहले तो हम यह जानने की कोशिश करते है, की किताबी कीड़ा होता कौन है, क्या किताब पढ़ने वाला व्यक्ति किताबी कीड़ा होता है, या किताब छापने वाला व्यक्ति किताबी कीड़ा होता है। देखिये दोस्तों बहुत ही सरल सी बात है। जब भी हम किसी दूसरे व्यक्ति के मुँह से किताबी कीड़ा होना के इस शब्द को सुनते है, तो हमारे दिमाग में एक ही चीज़ आती है, की इस बात का सामने वाले को क्या उत्तर दे चलिए ऐसी ही बातो के बारे में चर्चा करते है।

किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ

किताबी कीड़ा होना – पुस्तकों में ही खोया रहना। किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ होता है, पुस्तकों में ही खोया रहना अब आप सोच रहे होंगे की क्या पुस्तकों में खोये रहने वाले व्यक्ति के लिए ही इस मुहावरे का प्रयोग किया जाता है, तो आपको हम बता दे की ज्यादातर Student के लिए इस किताबी कीड़ा होना के मुहावरे का प्रयोग किया जाता है, किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ में हमने निचे किताबी कीड़ा होना मुहावरे को वाक्यों में प्रयोग करके बताया हुआ है। किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ हमने जान लिया है।

किताबी कीड़ा होना मुहावरे का वाक्यों में प्रयोग

हमने आपको ऊपर किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ के बारे में जानकारी बताई है, चलिए अब हम आपको किताबी कीड़ा होना के इस मुहावरे का वाक्यों में प्रयोग करके बताते है :-

  • जब भी हम अपने Friends के साथ मिलकर बाते करते है तो ऐसे मे हमारा Friend हमसे कहता है की तू तो किताबी कीड़ा है।
  • जब भी हम अपने रिश्तेदार के यहाँ पर किसी Topic के ऊपर चर्चा करते है तो हमारे रिश्तेदार हमें किताबी कीड़ा कहते है।
  • किसी की बात को रोककर उसे सही राय देने पर कोई हमसे कहता है की तू तो किताबी कीड़ा है।
  • ज्यादा पढाई करने पर कोई हमसे कहता है की तू तो किताबी कीड़ा है।
  • मामा के गांव में ज्यादा बाते करने पर कोई हमें कहता है की तुम किताबी कीड़े हो।
  • बैग लेकर School या College जाना लोग कहते है की यह तो पक्का किताबी कीड़ा है।

किताबी कीड़ा होना बोलना सही है, या गलत

हमने ऊपर किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ के बारे में जान लिया है, अब यहाँ पर बात यह आती है, की किताबी कीड़ा होना सही है, या गलत तो देखिये दोस्तों इसका बहुत ही सरल सा जवाब है, जैसा की हम किसी व्यक्ति की सोच को तब तक नहीं बदल सकते जब तक की वह व्यक्ति खुद अपने आप को बदलना नहीं चाहता।

हमारा कहने का मतलब यह है, की जो भी व्यक्ति आपको कहता है, की तू तो किताबी कीड़ा है। तो आपको यह समझ लेना चाहिए की वह व्यक्ति आपको खुद से बड़ा समझता है, वह यह चाहता ही नहीं है, की आप उसके सामने बाते करे, या आप उसको कोई ज्ञान दे। इसलिए हमने ऐसे लोगो के लिए निचे मुहावरे को बताया हुआ है :-

भैस के आगे बीन बजाना – निरर्थक प्रयत्न करना।

यह भी पढ़े :-

Conclusion

हमने आपको आज के इस ब्लॉग किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ के बारे में जानकारी देने के साथ ही कुछ जरूरी जानकारी किताबी कीड़ा होना के बारे में बताया हुआ है, यदि आपने हमारे इस ब्लॉग को अच्छे से पढ़ा होगा, तो आपको किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ के साथ ही सारी जानकारी जैसे – किताबी कीड़ा होना मुहावरे को कब और किसके सामने बोला जाता है, किताबी कीड़ा होना के इस मुहावरे को कौन व्यक्ति ज्यादा बोलता है, और भी बहुत सारी जानकारी आपको इस ब्लॉग किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ में आपको मिल गयी होगी।

यदि आपको हमारा यह ब्लॉग किताबी कीड़ा होना मुहावरे का अर्थ पसंद आया हो, तो आप हमें comment करे। साथ ही अपने दोस्तों को हमरा यह ब्लॉग Whatsapp, Facebook पर Share करे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *