लिंग के कितने भेद होते हैं? | ling ke kitne bhed hote hain

नमस्कार आज हम बात करने वाले है, हिंदी व्याकरण के एक प्रश्न के बारे में आपको हम लिंग के कितने भेद होते है (ling ke kitne bhed hote hain) के बारे में जानकारी देने वाले है। लिंग की परिभाषा के बारे में, लिंग से जुडी हुई समस्त जानकारी आपको हम इस ब्लॉग लिंग के कितने भेद होते हैं (ling ke kitne bhed hote hain) में देने वाले है।

ling ke kitne bhed hote hain
ling ke kitne bhed hote hain

दोस्तों बहुत बार परीक्षाओ में लिंग के कितने भेद होते हैं (ling ke kitne bhed hote hain) सही जानकारी नहीं होने के कारण बहुत सारे Student इस प्रश्न को सही तरीके से हल नहीं कर पाते है, यदि आप चाहते है, की आपको इस ब्लॉग में दी जाने वाली सारी जरूरी जानकारी के बारे में पता चले तो आप हमारे ब्लॉग लिंग के कितने भेद होते हैं (ling ke kitne bhed hote hain) को पूरा पढ़े। जिससे आपको इस ब्लॉग में दी जाने वाली सारी जानकारी के बारे में अच्छे से पता हो सके।

लिंग की परिभाषा

लिंग से तात्पर्य भाषा के ऐसे प्रावधान से होता है, जो वाक्य में कर्ता का रूप सजीव होने पर बदल जाते है। यदि हम संस्कृत भाषा में लिंग की बात करे तो आपको हम बता दे की संस्कृत में तीन लिंग का अस्तित्व किया गया है। लेकिन यदि हम हिंदी भाषा को देखे तो हिंदी भाषा में दो लिंग का अस्तित्व है। English भाषा में केवल सर्वनाम शब्दों में ही लिंग की व्यवस्था है। लिंग से ही व्यक्ति का पता लगाया जाता है, की वह व्यक्ति पुरुष है, या महिला। हमने निचे पुरुष और महिला लिंग के उदहारण को बताया हुआ है :-

  • पुरुष – कुत्ता शेर बकरा लड़का आदि।
  • महिला – बिल्ली बकरी लड़की आदि।

लिंग के कितने भेद होते हैं (ling ke kitne bhed hote hain)

हिंदी भाषा के अनुसार लिंग के दो भेद होते है, पुर्लिंग और स्त्रीलिंग। वही अगर हम बात करे संस्कृत भाषा की तो आपको यह जानकर हैरानी होगी की संस्करण भाषा में लिंग के तीन भेद होते है, पुर्लिंग, स्त्रीलिंग, और नपुसंकलिंग।

पुर्लिंग के बारे में

जिस वाक्य में किसी संज्ञा शब्दों से कर्ता के पुरुष होने का बोध होता है, उसे पुर्लिंग कहा जाता है। पुर्लिंग के अंतर्गत – लड़का, बकरा, हाथी, घोडा, शेर आते है।

स्त्रीलिंग के बारे में

वाक्यों में जिन संज्ञा शब्दों से कर्ता के स्त्री होने का बोध होता है, उनको स्त्रीलिंग कहा जाता है। स्त्रीलिंग के अंतर्गत – लड़की, बकरी, मुर्गी, कुत्तिया आदि आते है।

नपुसंकलिंग के बारे में

नपुसंकलिंग के अंतर्गत न तो पुरुष आता है, और न, ही महिला आती है, अब आप सोच रहे होंगे की जब पुरुष और महिला दोनों नहीं आते है, तो नपुसंकलिंग के अंतर्गत क्या आता है, तो आपको हम बता दे की नपुसंकलिंग के अंतर्गत – वायुयान, पुष्प, कमल, किन्नर आते है।

यह भी पढ़े :-

Conclusion

हमने आपको इस ब्लॉग लिंग के कितने भेद होते हैं (ling ke kitne bhed hote hain) में सारी जानकारी लिंग के बारे में बताई है, यदि आपने हमारे ब्लॉग को अच्छे से पढ़ा होगा, तो आपको लिंग के बारे में सारी जरूरी जानकारी जैसे – पुर्लिंग क्या होता है, स्त्रीलिंग क्या होता है, साथ ही आपको हमने नपुसंकलिंग के बारे में भी जानकारी के बारे में पता चल गया होगा, साथ ही आपको इस ब्लॉग लिंग के कितने भेद होते हैं (ling ke kitne bhed hote hain) में सारी जानकारी आपको प्राप्त हो चुकी होगी।

आशा करते है, की आपको हमारा यह ब्लॉग लिंग के कितने भेद होते हैं (ling ke kitne bhed hote hain) पसंद आया होगा, यदि आपको हमारा यह ब्लॉग पसंद आय हो, तो आप हमें Comment करे। साथ ही अपने दोस्तों को आप हमारा यह ब्लॉग लिंग के कितने भेद होते हैं (ling ke kitne bhed hote hain) Whatsapp, Facebook पर Share करे। जिससे आपके दोस्तों को भी हमारे इस ब्लॉग लिंग के कितने भेद होते हैं (ling ke kitne bhed hote hain) में दी जाने वाली सारी जानकारी के बारे में पता चल सके।

Related Posts

One thought on “लिंग के कितने भेद होते हैं? | ling ke kitne bhed hote hain

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *