फिटकरी का सूत्र क्या होता है? | Fitkari ka sutra kya hota hai

नमस्कार आज हम बात करने वाले है, एक ऐसे सूत्र के बारे में जिसका नाम फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) के बारे में जानकारी देने वाले है। आपको हम इस ब्लॉग में और भी बहुत सारी जानकारी देने वाले है, जैसे – फिटकरी के प्रकार के बारे में, फिटकरी के बारे में जानने के साथ ही फिटकरी के फायदे के बारे में भी बताने वाले है, और इतना ही नहीं दोस्तों, आपको हम फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) के इस ब्लॉग में फिटकरी के बारे में सारी जानकारी इस ब्लॉग के माध्यम से बताने वाले है।

Fitkari ka sutra kya hota hai
Fitkari ka sutra kya hota hai

फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) के बारे में बहुत सारे लोगो को जानकारी नहीं होती है, यदि आप पढाई करते है, तो आपको फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) के बारे में अच्छे से जानकारी रखना अनिवार्य है, क्योकि परीक्षाओ में कभी भी इस प्रश्न फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) के बारे में पूछा जा सकता है।

यदि आप चाहते है, की आपको आज के इस ब्लॉग में वो जानकारी प्राप्त हो, जो आज के समय में बहुत ही कम लोगो को पता है, तो आप हमारे इस ब्लॉग फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) को अंत तक पढ़े। जिससे आपको इस ब्लॉग में दी जाने वाली पूरी जानकारी पता चल सके।

फिटकरी के बारे में

फिटकरी एक रंगहीन होती है, फिटकरी का रंग नहीं होता है, इसलिए आपको हम बता दे की फिटकरी को क्रिस्टलीय पदार्थ माना जाता है। फिटकरी को English में एलम (ALUM) कहा जाता है। यह एक प्रकार का चतुर्थलीय क्रिस्टल होता है, जिसमे चतुर्थलीय क्रिस्टल जल के गुण होते है। वही अगर हम पौटेश एलम की बात करे तो आपको हम बता दे की पौटेश एलम 12 सेंटीमीटर (Centimeter) से पिघलता है। अब आप सोच रहे होंगे की फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) इसके बारे में हमने निचे बताया हुआ है। फिटकरी का इस्तेमाल बहुत प्रकार से किया जा सकता है।

यदि हम जानकारों की माने तो उनका कहना है, की फिटकरी एक सफ़ेद रंग का खनिज पदार्थ होता है। फिटकरी का प्रयोग बहुत प्रकार से किया जा सकता है, जिसके बारे में हमने आगे सी ब्लॉग में बताया हुआ है। फिटकरी को रासायनिक योगिक भी कहा जाता है। अब ये तो हमने जान लिया की फिटकरी क्या होती है, अब हम फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) इसके बारे में जान लेते है।

फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai)

फिटकरी का सूत्र KAI (SO4)2.12H20 होता है। फिटकरी को पोटाश एलम भी कहा जाता है। फिटकरी का रासायनिक नाम ” एलन ” होता है। फिटकरी को एक मिश्रण माना जा सकता है। एक जरूरी जानकारी यह है, की पोटेशियम और ऐल्युमिनियम के प्रयोग से ही फिटकरी को बनाया जा सकता है यह जरूरी नहीं है, आप फिटकरी को पोटेशियम और ऐल्युमिनियम के आलावा भी बना सकते है, लेकिन उसके लिए आपको कुछ अलग सा रासायनिक पदार्थ लेना होगा।

यदि आप फिटकरी को बनाना चाहते है, तो आपको हम बता दे की आप पोटेशियम के स्थान पर सोडियम (sodium), लिथियम (lithium), सीजियम (cesium), आदि का प्रयोग कर सकते है। साथ ही आपको यह भी पता होना जरूरी है, की आप ऐल्युमिनियम के स्थान पर क्रोमियम (chromium) का प्रयोग भी कर सकते है।

फिटकरी के प्रकार

यदि आपने फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) के बारे में जान लिया है, तो अब हम फिटकरी के प्रकारो के बारे में जान लेते है। फिटकरी के प्रकारो के बारे में आप सोच रहे होंगे की फिटकरी एक ही प्रकार की होती है, तो हम आपको बता दे की ऐसा नहीं है, हमारे भारत देश में ऐसे बहुत सारे लोग है, जिनको यह लगता है, की फिटकरी केवल एक ही प्रकार की होती है। फिटकरी के 6 प्रकार होते है। हमने निचे फिटकरी के उन 6 प्रकारो के बारे में बताया हुआ है :-

  1. पोटेशियम एलम (Potassium Alum)
  2. सोडियम एलम (Sodium Alum)
  3. सेलेनेट एलम (Selenate Alum)
  4. अमोनियम एलम (Amonium Alum)
  5. क्रोम एलम (Chrome Alum)
  6. एल्युमिनियम सल्फेड एलम (Aluminum Sulfide Alum)

फिटकरी के फायदे

फिटकरी के फायदे के बारे में आप यदि जानेंगे तो आप हैरान हो जायेंगे, क्योकि कोई भी व्यक्ति फिटकरी के फायदे के बारे में इतना नहीं जानता होगा, जितना आज आप हमारे साथ में जानने वाले है. तो चलिए अब हम आपको फिटकरी के फायदे के बारे में बताते है। हमने निचे कुछ पॉइंट के माध्यम से फिटकरी के फायदे के बारे में बताया हुआ है :-

  • फिटकरी का उपयोग उद्योग के लिए जैसे – छोटे बच्चो के कपडे बनाए के लिए किया जाता है।
  • फिटकरी का उपयोग चोट लगने पर खून को रोकने के लिए किया जा सकता है।
  • फिटकरी का प्रयोग बेसिक सोडा बनाने के लिए किया जाता है।
  • फिटकरी का प्रयोग पैरो की सूजन को दूर करने के लिए भी किया जाता है।
  • फिटकरी का प्रयोग उद्द्योग कामो के लिए जैसे – चमड़ा बनाने के लिए किया जाता है।
  • फिटकरी का प्रयोग पानी को स्वच्छ रखने के लिए भी किया जा सकता है।

यह भी पढ़े :-

Conclusion

हमने आपको आज के इस ब्लॉग फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) में फिटकरी के बारे में सारी जानकारी बताई है, जैसे – फिटकरी के बारे में, फिटकरी के प्रकार के बारे में फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) और फिटकरी के फायदे के बारे में बताते हुए कुछ जरूरी जानकारी आपको हमने इस ब्लॉग में बताई है, यदि आपने हमारे ब्लॉग को अच्छे से पढ़ा होगा तो आपको हमारे इस ब्लॉग फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) में सारी जानकारी फिटकरी के बारे में पता चल गयी होगी।

हमारा विश्वास है, की आपको हमारा यह ब्लॉग फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) पढ़कर अच्छा लगा होगा, और हमारे इस ब्लॉग के माध्यम से आपको वो जानकारी जिसको आप जानना चाहते थे। इस ब्लॉग फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) में पता चल गयी होगी। यदि आपको हमारा ब्लॉग अच्छा लगा हो, तो आप हमें comment करे। साथ ही अपने दोस्तों को यह ब्लॉग फिटकरी का सूत्र क्या होता है (fitkari ka sutra kya hota hai) whatsapp, facebook पर Share करे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *